'फोकस स्पेशल स्टोरी'

by NEHA GOSWAMI

फीचर्स डेस्क। कहते हैं कि दिल मे कुछ कर गुजरने की शिद्दत हो ,हौसला हो,और सच्ची चाहत हो तो नामुमकिन कुछ भी नही है।तब न गरीबी आड़े आती है और न ही जीवन मे आने वाली बाधाएं ।जीवन मे उतार चढ़ाव तो आते ही रहते हैं लेकिन उन उतारचढ़ाव को पार कर के अपनी मंज़िल तक पहुचने वाले को ही असली बाजीगर कहते हैं।और वो बाजीगर कोई और नही हम सभी म Read more...

h h h h h h h h h hhhhhhhhhhhhhhhhhhhhhhhhhhhhhhhh h h h h h h h h h h hhhhhhhhhh

by धर्मसंकट में शादियां : निमंत्रण ना दे तो नाराज, आए तो चालान, आखिर कैसे बुलाएं मेहमान

प्रयागराज। दिल्ली समेत देश के कई प्रदेशों में कोरोना की दूसरी लहर की सुगबुगाहट शुरू हो गई है। उत्तर प्रदेश में भी एक बार फिर से कोरोना का कहर बढ़ने के आसार नजर आने लगे हैं, जिसे देखते हुए राज्य सरकार ने नई गाइडलाइन जारी कर दी है । लेकिन इस गाइडलाइन में सबसे बड़ा फैसला शादी समारोह में होने वाली भीड़ को लेकर है । नए नियम Read more...

h h h h h h h h h hhhhhhhhhhhhhhhhhhhhhhhhhhhhhhhh h h h h h h h h h h hhhhhhhhhh

by Focus24 team

फीचर्स डेस्क। प्रत्येक स्वतंत्र राष्ट्र का अपना एक ध्वज होता है जो उस देश के स्वतंत्र देश होने का संकेत होता है। भारतीय राष्ट्रीय ध्वज को हम भारतवासी ' तिरंगा" के नाम से जानते हैं। 66"ब्यूरो ऑफ इंडियन स्टैंडर्ड "ने ध्वज निर्माण के लिए मानक सेट किया था। उन्होंने उसके निर्माण से जुडी हर छोटी-बड़ी बात जैस Read more...

h h h h h h h h h hhhhhhhhhhhhhhhhhhhhhhhhhhhhhhhh h h h h h h h h h h hhhhhhhhhh

by Focus24 team

फीचर्स डेस्क।  वैसे तो मैंने कभी आजतक तुम्हें पाती नहीं लिखी...क्योंकि तुम बहुत छोटे हो मुझसे,बस सदा स्नेह ही भेजा। आशा करती हूँ तुम सकुशल से होगे। शायद खत को पढकर तुम आश्चर्यचकित जरूर हो जाओ... आज के जमाने में खत लिखता कौन है। सच भी है। जबसे ये फोन आया है। लोगों खत लिखने की प्रक्रिया को भूल ही गए। आज बरस Read more...

h h h h h h h h h hhhhhhhhhhhhhhhhhhhhhhhhhhhhhhhh h h h h h h h h h h hhhhhhhhhh

by Shikha singh

प्रिय अनुज , शत शत् आर्शीवाद फीचर्स डेस्क।  टेक्नोलॉजी के दौर में चिट्ठी । यही सोच रहे हो न अनुज,,, "अब कोई चिट्ठियां नहीं लिखता , हरकारे नहीं आते । बाबुल Read more...

h h h h h h h h h hhhhhhhhhhhhhhhhhhhhhhhhhhhhhhhh h h h h h h h h h h hhhhhhhhhh

by Shikha singh

फीचर्स डेस्क। कैसे हो!...  शैतानियाँ कुछ कम हुई कि अभी भी अनवरत रूप से सबको सताना जारी है.... वैसे तुमसे रोज़ फोन पर बात होती है... विडियो कॉल की सुविधा के चलते हमें एक दूसरे के बारे में सब मालूमात हासिल रहते है!.... किन्तु जैसा हर साल की Read more...

h h h h h h h h h hhhhhhhhhhhhhhhhhhhhhhhhhhhhhhhh h h h h h h h h h h hhhhhhhhhh