diwali special : अपनाये ये वास्तु टिप्स तो सफल होगी मां लक्ष्मी की आराधना

Slider 1
« »
23rd October, 2019, Edited by Shivangi Agarwal

फीचर्स डेस्क। कुछ फेस्टिवल को दोस्तो और रिलेशन मे गिफ्ट देने का रिवाज है। वही घर के लिए भी ख़रीदारी करनी होती है। इन फेस्टिवल मे महिलाओं की महत्वपूर्ण भूमिका होती है। हमारे देश में महिलाओं को लक्ष्मी माना जाता है, वहां भला इस जिम्मेदारी को गृहणी से बेहतर और निभा भी कौन सकता है। हर महिला चाहती है कि उसके घर में पूजा विधि-विधान से संपन्न हो और मां लक्ष्मी की कृपा उनके परिवार पर बनी रहे। इस बार आपका पूजन फलदाई बने और आपके घर में वैभव विराजे, इसके लिए आइए वास्तु एक्सपर्ट विकास मिश्रा से जानते हैं कुछ अहम वास्तु टिप्स...

घर से अवांछित सामान जैसे कि पुराने कपडे़, जूते, डिब्बे आदि हटा दें। यह सामान नकारात्मक ऊर्जा का स्रोत होता है और आर्थिक अवसरों पर प्रतिकूल प्रभाव डालता है। लक्ष्मी को प्रसन्न करने के लिए भली प्रकार से पूजन करना भी आवश्यक है। जिस कक्ष में पूजा स्थल बनाएं, वहां ताजा हवा व रोशनी का पर्याप्त प्रबंध होना चाहिए। अपने प्रेम व देखरेख से मकान को घर बनाने वाली होती हैं महिलाएं। शास्त्रों में भी वर्णित है कि जिस घर में स्त्री का आदर-मान नहीं होता, वहां दरिद्रता वास करती है। ऐसे में अगर आप लक्ष्मी को प्रसन्न करना चाहती हैं तो सबसे पहले अपने घर की महिलाओं विशेष रूप से बुजुर्ग महिलाओं को पूरा आदर और सम्मान दें।

पूजन कक्ष में चमडे़ का सामान, जूते-चप्पस आदि न ले जाएं। पूजा स्थल के लिए सर्वोत्तम स्थान ईशान कोण अर्थात उत्तर व पूर्व का समागम स्थल है। पूजन में देवी-देवताओं की प्रतिमाओं के चित्रों को मृतकों और पूर्वजों के चित्रों के साथ ना रखें।

पूजन में अर्पण करने के लिए जहां तक संभव हो सके, ताजे फल व फूलों का ही उपयोग करें। भूमि पर गिरा हुआ फूल, जिसकी पंखुडियां टूटी हुई हों, आग में झुलसा हुआ फुल व सूंघा हुआ फूल पूजा में इस्तेमाल नहीं करना चाहिए।