करवा चौथ स्पेशल : ... तो सजना है खुद के लिए भी

Slider 1
Slider 1
« »
12th October, 2019, Edited by Shivangi Agarwal

फीचर्स डेस्क। जमाना तेजी सी बदलाव की तरफ बढ़ रहा है। ऐसे में अब टैग लाइन भी आ चेंज हो रही है। “अब सजना है सजना के लिए” सिर्फ नहीं बल्कि “सजना है खुद के लिए” कुछ टाइगिंग हो रही हैं सोशल मीडिया पर। तो क्या न बात की जाय इस फेस्टिवल करवा चौथ पर खुद के लिए भी। दरअसल, अब वह जमाना नहीं रहा जब महिलाएं सजना के लिए सजें। उन्हें तो खुद का वजूद थामे हुए चलते जाना है, जिंदगी के हर मुकाम या पड़ाव को पार करने के लिए। रेबेका सैलून मेकअप आर्टिस्ट प्रियंका गुप्ता कहती हैं कि हर महिला को खुद पर विश्वास करना होता है और इस विश्वास को पाने के लिए मेकअप यानी शृंगार महत्त्वपूर्ण भूमिका निभाता है। जबकि मेकअप शब्द सुनते ही दिमाग में रंगबिरंगी लिपस्टिक, लिपेपुते चेहरे घूम जाते हैं, पर मेकअप का असली उद्देश्य होता है कमियों को छिपाना, उन नैननक्शों को उभारना जो आप की खूबसूरती में चारचांद लगाते हैं। तो आइये इस फेस्टिवल के लिए जानते हैं कुछ आसान से टिप्स जो आपकी सुंदरता मे चार चाँद लगा दें...

कानपुर कि रीमा वाजपेई कहती हैं मैं खुद 40 का पड़ाव पार कर चुकी हूं और एक बात बहुत विश्वास के साथ कह सकती हूं कि हर उम्र की जैसे अलग अलग जरूरतें होती हैं, उसी तरह हर उम्र के साथ आप को अपने सौंदर्य प्रसाधन भी बदलने पड़ते हैं। जबकि अधिकतर महिलाएं एक ही प्रकार का फाउंडेशन या फेस पाउडर अथवा लिपस्टिक का शेड प्रयोग करती रहती हैं।

लखनऊ कि सरिता सिन्हा जो एक मेकअप आर्टिस्ट भी हैं उन्होने कहा कि आप की स्किन उम्र के साथ बदल जाती है तो आप एक ही प्रकार के सौंदर्यप्र साधन कैसे प्रयोग कर सकती हैं? उम्र चाहे 6 वर्ष की हो या 60 वर्ष की आईना हर महिला का सब से करीबी साथी होता है, यही उसे उस के साथ हो रहे बदलावों से सब से पहले परिचित कराता है, तो क्यों न हम भी अपने इस साथी के हाथ में हाथ डाल कर अपने सौंदर्य प्रसाधन चुनें ताकि हम जीवन के हर पड़ाव पर सुंदर और गरिमामयी लगें।

ऐक्ने कि प्रॉबलम ऐसे होगी सोल्व

ऐक्ने हों तो उन्हें छिपाने के लिए फाउंडेशन की जरूरत नहीं है। उन के साथ छेड़छाड़ बिलकुल न करें। क्योंकि ऐक्ने सूर्य की किरणों के प्रभाव में आ कर ही गहरे काले दाग छोड़ते हैं। सनस्क्रीन इन सभी समस्याओं से छुटकारा दिलाती है। इस उम्र में कलर्ड लिपजैल अच्छा लगता है पर भूल कर भी सस्ते उत्पाद होंठों पर न लगाएं।

ऐसे अपने वैनिटी बैग को करे अपडेट

फाउंडेशन खरीदने से पहले उसे हाथ की स्किन पर लगा कर जरूर देखें। जो फाउंडेशन आप की हाथ की स्किन में घुलमिल जाता है वही आप की स्किन के लिए अनुकूल है। आजकल बीबी क्रीम का भी बोलबाला है। अगर फाउंडेशन का प्रयोग नहीं करना चाहतीं तो यह भी एक अच्छा विकल्प है।

नई दुलहन हैं पहला करवा है तो ...

आप नई दुलहन हैं तो एक लाल, गुलाबी, महरून, रानी और कौफी शैड की लिपस्टिक इस फेस्टिवल आप के पास अवश्य होनी चाहिए। पर इन सब के भी बहुत शेड्स होते हैं। गहरे रंग गहरी रंगत के लिए और हलके रंग हलकी रंगत पर ही अधिक फबते हैं। मैट, ग्लौसी और क्रीम बेस्ड लिपस्टिक के शेड्स वैनिटी बैग में अवश्य होने चाहिए जिन्हें आप मौके के हिसाब से प्रयोग कर सकती हैं।

आंखों को दे ड्रामैटिक लुक

मसकारा आप की पलकों को और अधिक लंबा और घना दिखाता है और आंखों को ड्रामैटिक लुक भी देता है। किसी भी अच्छी कंपनी के मसकारे का ही प्रयोग करें और एक मसकारा ही काफी है, क्योंकि यह बहुत जल्दी सूख जाता है।

नयना को आईलाइनर बनाता है और सुंदर

आईलाइनर आप की आंखों को सुंदर बनाने में विशेष भूमिका निभाता है। वाटरप्रूफ लिक्विड आईलाइनर बेहतर विकल्प है। आईलाइनर हमेशा बाहरी कोने से भीतर की तरफ लगाएं।

 सनस्क्रीन से दोस्ती

सनस्क्रीन से दोस्ती बरकरार रखें पर यह ध्यान रखें कि वह क्रीम बेस्ड हो, ऐसे ही फाउंडेशन भी लिक्विड और क्रीम बेस्ड होना चाहिए नहीं तो स्किन बहुत ही रूखी और अनाकर्षक लगेगी। आंखों और होंठों के लिए डीप कलर अच्छे रहेंगे। उम्र बढ़ने के साथसाथ होंठ भी पतले हो जाते हैं। अत: लिपग्लौस की मदद से उन्हें थोड़ा भरा हुआ और ग्लौसी दिखा सकती हैं।