कीड़े लगने के कारण दांतों में होती है कनकनाहट की समस्या : डॉ. अदिति

Slider 1
« »
5th January, 2020, Edited by Focus24 team

हेल्थ डेस्क। अगर दांतों जड़ों में लंबे समय तक खाने के अवशेष जमा रहते हैं तो ऐसे स्थित में दांतों में कीड़े लगने की समस्या होती है। आपको बता दें कि ये कीड़े दो दांतों के बीच, मसूड़ों के पास और उनकी जड़ों में लगते हैं। दरअसल, दांतों की नियमित सफाई न करने से दांतों के बीच में अन्न कण फंसे रहते हैं और इन्हीं अन्न कणों के सड़ने की वजह से दांतों में कीड़े लग जाते हैं। जिससे दांतों की जड़े कमजोर हो जाती है। इसी कारण दांत खोखले हो जाते हैं, मसूड़े ढीले पड़ जाते हैं तथा दांत टूटकर गिरने लगते हैं। डॉ अदिति कहती हैं कि दांतों की नियमित सफाई करने इस समस्या से बचा जा सकता है। वहीं दातों से रिलेटेड कुछ प्रॉबलम जानते हैं उनके बारें में।

दांतों में कनकनाहट की समस्या

दांतों में कनकनाहट की समस्या तब होती है जब आपके दांत में कीड़े लगे हों और यह इस कारण से खोखला हो गया हो। खासकर इस मौसम में सर्द हवा के कारण यह समस्या बढ़ जाती है।

क्यो आता हैं दांत से खून

अगर आपके दांत से खून आ रहा है तो समझ लीजिए यह पायरिया की लक्षण है। ऐसे में आप तत्काल अपने डैंटिस्ट से मिलें और ऐसे स्थित में दांत को एक बार साफ कराने होंगे। इसके बाद यह बीमारी दूर हो जाएगी।

दांत फिलिंग कराने के बाद भी क्यो होती है कनकनाहट

एक्सपर्ट के अनुसार जब आपके दांत अधिक सड़ गए होते हैं तो कभी-कभी फिलिंग कराने के बाद भी कनकनाहट होता है। ऐसे में इसका आपको रूट कनाल करने पड़ सकते हैं।

दांतों को साफ रखने के लिए दो बार ब्रश करें

आप चाहती हैं कि आपके दांत सुंदर और निरोग रहें तो दिन मे दो बार ब्रश करें। सुबह और रात में सोने जाने से पहले। इससे आपके दांत साफ और मजबूत रहेगें।

केमिकल्स का यूज करना गलत

आजकल मार्केट में कई तरह के केमिकल्स आते हैं जो दांतों को साफ करने का दावा करते हैं पर यह बहुत नुकसानदायक भी है। दरअसल, तंबाकू, शराब, गुटखा आदि के सेवन से या सफाई के अभाव में दांत पीले पड़ जाते हैं। जानकारी के अभाव में दांतों को साफ करने के लिए लोग कई तरह के केमिकल्स का इस्तेमाल करते हैं। इसका भी दांतों पर बुरा प्रभाव पड़ता है। खाने की गलत आदतें भी दांतों को पीला बना देती हैं। चाय, कॉफी, सॉफ्ट ड्रिंक्स के ज्यादा सेवन से भी दांत पीले पड़ जाते हैं। विटामिन डी की कमी से भी दिक्कत आती है।