निशा जिंदल निकली रवि पुजारा, पुलिस घर पहुंची तो दंग, पढ़ें पूरी कहानी

Slider 1
« »
20th April, 2020, Edited by Focus24 team

फीचर्स डेस्क। सोशल मीडिया पर आप लोग हर रोज कुछ न कुछ नया कारनामा से अवगत होते रहते हैं। लेकिन आज आपके सामने एक ऐसी कहानी है जो नई तो नहीं लेकिन कुछ अलग है। आपके पास जब किसी महिला मित्र का फ्रेंड रिकेवष्ट आता है तो मनों मन खुश हो जाते होंगें। लेकिन सामने वाला जब आपको कभी पता चले तो सोचो क्या होगा। एक ऐसी ही कहानी प्रस्तुत है- छत्तीसगढ़ पुलिस के सामने भी ऐसा ही केस आया बताया जा रहा है कि निशा जिंदल के नाम से फेसबुक अकाउंट बनाकर पिछले 11 साल से रवि पुजारा लोगो से बात कर रहा था और भड़काऊ पोस्ट डाल रहा था। बेचारे हजारों लड़कों और थरकी लोगों का दिल टूट गया है और भरोसा उठ गया महिला फेसबुक मित्रों से।

कौन है निशा जिंदल उर्फ रवि पुजारा

अब आपको लग रहा होगा आखिर है कौन रवि पुजारा ? बात भी सही है जानने कि रुचि तो होगी ही खास तौर पर जिन्होने पिछले 11 साल से निशा समझ कर पूरी रात निशा के नाम किया होगा। तो आपको बता दें। दरअसल फेसबुक पर निशा जिंदल नाम की एक लड़की भड़काऊ पोस्ट करती थी। जिसके खिलाफ शिकायतें आई तो पुलिस ने इसकी तलाश शुरू की। पर हद तो तब हो गयी जब आईपी एड्रेस ट्रेस कर पुलिस निशा जिंदल के घर पहुंची। निशा जिंदल दाढ़ी मूंछ में सामने खड़ी थी। तब पता चला यह प्रिसेंज नहीं शक्तिमान के डाक्टर जैकाल है। पुलिस ने बताया कि 31 साल का रवि पुजारा नाम का यह शातिर पिछले 11 सालों से स्नातक इंजीनियरिंग परीक्षा में फेल हो रहा है। 2012 से वह निशा जिंदल और पाकिस्तानी अभिनेत्री मिराहा पाशा के नाम से फर्जी फेसबुक आईडी चला रहा है।

फॉलोवर्स भी कम नहीं

आपको जानकार आश्चर्य होगा कि इसने निशा के नाम पर 10 हजार फॉलोवर्स बना रखे हैं। हालांकि पुलिस भी कम नहीं है, गिरफ्तारी के बाद उसे उसकी आईडी पर पोस्ट कि कराया कि 'मैं निशा जिंदल हूं और मैं पुलिस हिरासत में हूं।' जानकारी के लिये बता दूं राजकुमारी निशा उर्फ रवि 2009 से आईटी इंजीनियरिंग का छात्र है लेकिन वह आज तक उसमें पास नहीं हो पाया है।

उचे पोस्ट पर काबिज ऐसा बया किया आईडी में

रवि पुजारा ने बाकायदा सोशल मीडिया पर यह खुद को अंतरराष्ट्रीय मुद्रा कोष, विश्व स्वास्थ्य संगठन और विश्व व्यापार संगठन का सदस्य बताता है। पुलिस ने रायपुर के कबीर नगर से उसे पकड़ लिया। पुलिस ने उसका फोन और लैपटॉप जब्त कर लिया है। बताना नहीं चाहिये, लेकिन हजारों लड़कों के दिल के अरमान उसके चैट बाक्स में भी हैं, जिसकी जानकारी उन लोगों को अब तक हो भी चुकी है।

क्या बोले सीएम 

इस पूरे वाक्ये पर जब छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल को जानकारी दी गयी तो उन्होने ट्विटर पर पुलिस की सराहना करते हुए लिखा, 'किसी भी धोखे को बख्शा नहीं जाएगा। आइये उन सभी तत्वों का पर्दाफाश करते हैं जो लोगों को गुमराह करना चाहते हैं। रायपुर पुलिस ने अच्छा काम किया।'