ब्रिटिश एक्सपर्ट ने कहा- गंध न सूंघ पाना और स्वाद महसूस नहीं होना भी कोरोना संक्रमण के शुरुआती लक्षण

Slider 1
« »
25th March, 2020, Edited by Shikha singh

हेल्थ डेस्क। गंध या खुशबू को सूंघ न पाना और स्वाद महसूस न होना भी कोरोना वायरस के संक्रमण का शुरुआती लक्षण है। यह दावा ब्रिटिश वैज्ञानिकों ने अपनी रिपोर्ट में किया है। रिपोर्ट के मुताबिक, संक्रमण के कारण सूजन की स्थिति बनती हैं जिससे गंध को सूंघने की क्षमता प्रभावित होती है। इसके अलावा अलग-अलग देशों के वैज्ञानिकों ने भी इस पर मुहर लगाई है। वैज्ञानिकों का दावा है, यह स्थिति एक स्क्रीनिंग टूल की तरह काम करती है। 

साउथ कोरिया, चीन और इटली के मरीजों में मिले लक्षण

वैज्ञानिकों के मुताबिक, संक्रमण खत्म होने पर गंध को सूंघने की क्षमता में सुधार होता है लेकिन कुछ ही मामलों में ऐसा होता है। वहीं कुछ मामलों में ताउम्र गंध महसूस होने की क्षमता खत्म हो जाती है। ब्रिटिश रायनोलॉजिकल सोसायटी के प्रेसिडेंट निर्मल कुमार के मुताबिक, साउथ कोरिया, चीन और इटली में कोरोना पीड़ित लोगों में ये लक्षण पाए गए हैं। 

दावा, लक्षण संक्रमण पहचानने में मदद करेगा

रिपोर्ट के मुताबिक, साउथ कोरिया में कोरोना से पीड़ित 30 फीसदी लोगों ने गंध को न सूंघ पाना सबसे प्रमुख लक्षण था। बुखार, खांसी और सांस लेने में तकलीफ के अलावा यह भी एक अहम लक्षण है, जो संक्रमण पहचानने में मददगार साबित हो सकता है। ऐसी ही रिपोर्ट अमेरिकन एकेडमी ऑफ ओटोलैरेंगोलॉजी ने भी हाल ही में जारी की है। 

प्रभावित होती है स्वाद का अंतर करने की क्षमता

अमेरिकन एकेडमी की रिपोर्ट के मुताबिक, कोरोना का संक्रमण सूंघने की क्षमता प्रभावित करने के साथ स्वाद पहचानने की क्षमता को भी खत्म करता है। ऐसे लक्षण दिखने पर बिना देरी किए डॉक्टरी सलाह लेनी चाहिए। मैसाच्युसेट्स के साइनस डिसीज एक्सपर्ट डॉ. एरिक हॉलब्रूक के मुताबिक, ऐसी स्थिति में मरीज कुछ खास तरह के फ्लेवर के स्वाद में अंतर नहीं कर पाते लेकिन पूरी तरह से स्वाद का न पहचानने की बात पर अभी कुछ नहीं कह सकता। फिलहाल मैं कोरोना से पीड़ित ऐसे मामलों पर रिसर्च कर रहा हूं।