रखना मुझ पर ऐसे ही एतबार तुम...

Slider 1
« »
10th October, 2020, Edited by Priyanka Shukla

मुझ पर तेरा विश्वास जो है ,

मेरे लिए जिनेबकी वजह है।

तू माने या न माने हकीकत है,

तेरा विश्वास मुझे देता होंसला है।

जानते हो तुम या हो अनजान ,

तुम्हारी कसम ,झूठ नहीं बात यह ,

एक तेरा विश्वास ही तो है मेरे लिए,

मेरे तेरे रिश्ते की संजीवनी ।।

रखना मुझ पर ऐसे ही एतबार तुम,

वादा रहा मेरा कभी न टूटेगा यह ,

अंतिम सांस तक निभेगा यह वादा,

वचन दो की यह विश्वास बना रहेगा ।

कभी कभी भटक जाते है राह हम,

लौट कर आ जाएंगे तुरन्त पास तुम्हारे,

गलत न करेंगे कभी भी किसी के संग,

धोखा न देंगे तुमको मेरी जान हम ।।

अविश्वास में जब आँखे तुम मोड़ते हो,

पल पल हर पल खुद को टूटता पाते है,

शब्द नहीं कहते कुछ भी मुझको ,लेकिन,

खामोश निगाहें सब बोलती है ।।

यकीन करो मेरा तुम सनम ,

हम दोनों है सिर्फ एक दूजे के लिए,

इस जन्म में क्या अगले साथ जन्म ,

रहेंगे हम साथ साथ एक दूजे के बन ।।

तुम अपना विश्वास मुझ पर बनाये रखना,

जो तुम नहीं रहोंगे साथ मेरे तो,

जीवन मेरा हो जाएगा वीरान,क्योंकि

दिल तो तेरे नाम से ही धड़कता है ।।

input : डॉ सारिका औदिच्य, जयपुर, राजस्थान।