जनम जनम का साथ

Slider 1
« »
27th November, 2019, Edited by Focus24 team

    जनम जनम का साथ

बस......गले से लगा लेना

      सारे गिले-शिकवा दूर हो जाएँगे 

हाथ पकड़कर पास बिठा लो तो 

       दिल के और करीब आ जाएँगे 

अंधेरों में गर तुम साथ रहोगे 

           तो उजाले खुद व खुद मिल जाएँगे 

तुम्हारी सांसे जब मेरे रुख पर पड़ेंगीं

             तो हम चंदन से महक जाएँगे 

ये जिंदगी तो क्या हम तेरे नाम 

               हर जनम कर जाएँगे ,

तुझसे दूर हूँ, तो शब्दों की कमी नहीं 

        पर ये तय है कि जब तुम सामने होगे

तो कुछ भी न हम कह पाएंगे....

        बस.....आँसुओं के समुन्दर में 

खुद भी बहेंगें और तुम्हें भी ले जाएंगे 

          जब तुम.....अपने जीवन में

....मुझे बुलाओगे......तो 

            नयनों से दिल की बातें 

  तुम्हें समझाएंगे...और यदि नहीं समझे......

 तो प्यारा सा रूठ जाएंगे 

 Input source: द्विवेदी अर्चना मिश्रा,  कन्नौज,यूपी