कोरोना वायरस: बैंक के लोन देर से चुकाने की मिल सकती है सुविधा, वित्तीय सहायता की घोषणा भी कर सकती है सरकार

Slider 1
« »
24th March, 2020, Edited by Focus24 team

नई दिल्ली। कोरोना वायरस के बढ़ते प्रकोप के बीच सरकार छोटे-मझोले उद्यमों (एमएसएमई) को राहत देने के उपायों पर विचार कर रही है। सूत्रों ने शुक्रवार को कहा कि इन उपायों के तहत बैंक के लोन देर से चुकाने की सुविधा दी जा सकती है। वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण के साथ बैठक करने के बाद एक अधिकारी ने कहा कि हमने कई उपायों पर विचार किए। इनमें वित्तीय सहायता भी शामिल है। कारोबारियों की सुविधा के लिए ज्यादा मोहलत देने जैसी कोई सुविधा दी जा सकती है। जीएसटी के मुद्दे पर भी इस बैठक में विचार हुआ।

वित्त मंत्री के साथ अधिकारियों की हुई बैठक

एमएसएमई मंत्रालय के वरिष्ठ अधिकारियों ने वित्त मंत्री के साथ एक बैठक की थी। एमएसएमई को मौजूदा संकट से बाहर निकलने में मदद करने के लिए उन्होंने कई सुझाव दिए। कोरोना वायरस के प्रकोप के कारण उद्योग की आपूर्ति श्रृंखला बुरी तरह से प्रभावित हुई है। इसके साथ ही बाजार में मांग भी घट गई है।

एमएसएमई मंत्री गडकरी ने दिया था संकेत

गौरतलब है कि एमएसएमई मंत्री नितिन गडकरी ने गुरुवार को राज्यसभा में कहा था कि वित्त मंत्रालय को एक प्रस्ताव भेजा गया है, जिसमें कोरोना वायरस के प्रकोप से निपटने में एमएसएमई सेक्टर को मदद करने के लिए कुछ उपाय सुझाए गए हैं। उन्होंने हालांकि यह नहीं बताया था कि क्या-क्या सुझाव दिए गए हैं। उन्होंने कहा था कि इस प्रस्ताव पर विचार करने के लिए वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने शुक्रवार को एक बैठक आमंत्रित की है। देश में अब तक कोरोना वायरस से कुल 250 लोग संक्रमित हो चुके हैं। इनमें से 4 की मौत हो चुकी है। संक्रमित हो चुके लोगों में से 32 विदेशी नागरिक हैं। 23 का या तो उपचार हो चुका है या उन्हें स्थानांतरित कर दिया गया है। संक्रमित भारतीय लोगों की संख्या 191 है।