अर्थराइटिस से परेशान हैं तो पढ़ें क्या कहते हैं हेल्थ एक्सपर्ट

Slider 1
« »
30th October, 2019, Edited by Pratima Jaiswal

वाराणसी। अर्थराइटिस या गठिया रोग ठंडी में अधिक होता है। यह रोग अक्सर 40 के पार उम्र के लोगों को अपने चपेट में लेता है। इस रोग के लक्षण आमतौर पर समय-समय पर विकसित होते रहते हैं। हलाकि इसका सबसे अधिक असर 55 प्लस के लोगों को पर होता है। जबकि हेल्थ एक्सपर्ट मानते हैं कि आजकल की खानपान और लाइफस्टाइल के कारण यह रोग बच्चों और युवा में भी होने लगा है। वहीं यह रोग पुरषों के अपेक्षा महिलाओं में अधिक होता है खासतौर पर जिनकी वजन अधिक होता है। गठिया रोग के लक्षण यह रोग के शुरूआती लक्षण जोड़ों में दर्द जकडऩ और वदन में सूजन आम लक्षण हैं। इसके साथ ही यह रोग जिस अंग में होता है वहां पर स्कीन आपकी लाल रंग की दिखाई पड़ती है। अगर यह रोग आपको प्रभावित कर लेती है तो आपको चलने में दिक्कत हो सकती है। यह रोग यदि किसी को है तो सुबह इसका असर अधिक होता है।

क्या होता है गठिया रोग

गठिया रोग सामन्यत: हेल्थ एक्सपर्ट मानते हैं कि पुराने चोटो के कारण होता है। इसके अलावा यदि अनुवांसिकता के कारण भी होता है यानी परिवार में किसी को यह रोग पहले से है तो यह आपको भी प्रभावित कर सकती है। वैसे इस रोग का सही कारण पता नहीं चल पाया है। वैज्ञानिक इसे हार्मोन और पर्यावरण के कारण भी मानते हैं।

गठिया रोग से बचाव

गठिया रोग एक गंभीर बिमारी है इसका इलाज समय रहते करा लें तो बेहतर है। इसके साथ ही संयमित जीवन शैली संतुलित अहार से आप इस रोग से हद तक बच सकते हैं। गठिया रोग शरीर में जरूरत से अधिक यूरिक एसिड होने के कारण भी होता है। इस रोग के होने पर आपके प्रभावित अंग में सूजन आ जाती है।