कोरोना : तय हो गया अब गेंद पर नहीं लगा सकेंगे थूक

Slider 1
« »
19th May, 2020, Edited by Focus24 team

स्पोर्ट्स डेस्क।  कोरोना का असर क्रिकेट पर किस तरह से हावी हो रहा है। इसका अंदाजा अब आप क्रिकेट में बदल रहे एक नियम को देखकर लगा सकते हैं। जो गेंदबाजी का पूरा माहौल ही बदल कर रख देंगा। किसी भी गेंदबाज के लिये गेंद के एक हिस्से को चमकाये रखना और फिर उसका फायदा उठाना, खासकर बल्लेबाज के विरूद्ध, अब वैसा नहीं हो सकेगा। यानि गेंद चमकाने का जो अभी तक का तरीका था, थूक लगाकर गेंद चमकाने का वह अब नहीं हो सकेगा। ICC क्रिकेट कमिटी ने सोमवार को लार पर बैन लगाने की सिफारिश की है और लगभग इस पर सहमति भी बन गयी है। अनिल कुंबले की अध्यक्षता में हुई इस वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग में कोरोना को लेकर इस बदलाव पर सहमति बनती नजर आ रही है। 

पसीने से चमका सकेंगे 

हालांकि खिलाडियों को अपने पसीने से गेंद को चमकाने की छूट होगी। यानि थूक का तो इस्तेमाल नहीं होगा, लेकिन अगर वह चाहे तो अपने पसीने से गेंद को चमका सकेंगे। अनिल कुंबले की अगुवाई वाली समिति ने इसे लेकर अपनी सिफारिश पेश की है और आईसीसी के चिकित्सा सलाहकार समिति के अध्यक्ष डॉक्टर पीटर हारकोर्ट ने भी इस पर अपना नजरिया पेश किया है। 

मिलती है स्विंग 

लाल गेंद को जब गेंदबाज एक तरफ चमका कर रखते हैं तो उसका फायदा उन्हें गेंदबाजी के दौरान मिलता है। दरअसल गेंद जब फेंकी जाती है तो हवा को वह चीरती हुई आगे बढती है। यानि एक तरह से हवा गेंद प्रभावित करती है। गेंद का जो चिकना हिस्सा होता है, उधर से हवा आसानी से आगे निकल जाती है, यानि गेंद को आगे बढने में वह बहुत ही कम प्रभाव डालती है। लेकिन गेंद का जो खुरदरा हिस्सा होता है, हवा उस क्षेत्र पर प्रभाव डालती है। हवा  खुर​दुरे हिस्से से टकराती है और इस कारण गेंद हवा में भी स्विंग करती नजर आती है।