कोरोना से मरने वाले 75% मरीजों में मिली डायबिटीज के लक्षण, पढ़ें पूरी खबर

Slider 1
« »
25th June, 2020, Edited by Focus24 team

नई दिल्ली। मधुमेह (डायबिटीज) रोगियों में कोरोना का खतरा 50 फीसदी ज्यादा है। भारत में 11 में से एक व्यक्ति मधुमेह ग्रस्त है। विश्व के 16.6 फीसदी मधुमेह मरीज भारत में हैं। मधुमेह रोगियों में प्रतिरोधक क्षमता कम होती है। सिर्फ कोरोना ही नहीं, बल्कि अन्य बीमारियों का खतरा भी ज्यादा है।

दवाओं के साथ परहेज हो

दिल्ली के चौधरी ब्रह्मप्रकाश आयुर्वेद अस्पताल के डॉ. केएन शर्मा का कहना है कि सीएसआईआर की बीजीआर-34 दवा असरदार है। डॉक्टर की तरफ से दीं दवाओं के सेवन और परहेज से भी नियंत्रण में ला सकते हैं। दिल्ली एम्स के वरिष्ठ डॉक्टर राकेश यादव का कहना है कि मधुमेह रोगी कोरोना संक्रमित मरीज के संपर्क में आते हैं तो इनमें महामारी का प्रभाव जानलेवा हो सकता है।

संक्रमण से मृत 75% में अन्य बीमारियां भी मिलीं...

स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार देश में कोरोना से मौतों में 75 फीसदी मधुमेह, दिल या बीपी से ग्रस्त थे। विशेषज्ञों का कहना है कि कोरोना का एक ही सीजन देखने को मिला है। इसलिए ज्यादा जानकारी नहीं है।

आधों को अपने रोग का पता नहीं

लैंसेंट के अनुसार भारत में आधे से ज्यादा मधुमेह मरीजों को बीमारी का पता नहीं होता। 7.7 करोड़ में से 5.7 करोड़ निगरानी नहीं करते। 20% उपचार नहीं लेते। अध्ययनों के मुताबिक, कोरोना के गंभीर मामलों में मधुमेह और मेटाबोलिक सिंड्रोम की स्थिति ज्यादा मिल रही है।