शुभ कार्य में बारिश का आना शुभम का प्रतीक: कोविंद

शुभ कार्य में बारिश का आना शुभम का प्रतीक: कोविंद

गोरखपुर। राष्ट्रपति रामनाथ कोविन्द ने शनिवार को कहा कि किसी भी शुभ कार्य में बारिश का होना शुभम का प्रतीक है। जिले के पिपरी तरकुलहा में महायोगी गुरु गोरखनाथ विश्वविद्यालय के शिलान्यास समारोह के दौरान बारिश के बावजूद जनसह का उत्साह देखने लायक था। समारोह के मुख्य अतिथि राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद भी लोगों का उत्साह देख प्रफुल्लित हो गए।

राष्ट्रपति ने कहा कि धर्म शास्त्रों में यह मान्यता है कि शुभ कार्य के दौरान आकाश से पानी की बूंदें आ जाएं तो कार्य शुभ से अत्यंत शुभम हो जाता है। सुबह लखनऊ से चले तो मौसम पूर्वानुमान के अनुसार जानकारी थी कि आज बारिश होने वाली है। बारिश में भी जुटे भारी जनसमूह को देख राष्ट्रपति ने कहा कि आयुष विश्वविद्यालय के प्रति आप सबके समर्पण की भावना ही है कि खुद प्रभु इंद्रदेव का भी आशीर्वाद मिल गया है। गौरतलब है कि 28 अगस्त को गोरखपुर में प्राचीन और परंपरागत चिकित्सा पद्धतियों के संरक्षण व संवर्धन की दिशा में महायोगी गुरू गोरखनाथ आयुष विश्वविद्यालय की भमि पूजन कर आधार शिला रखी जो प्रदेश का पहला विश्वविद्यालय होगा।