कोविड विहैवियर को जीवनशैली का हिस्सा बनाएं: योगी  

कोविड विहैवियर को जीवनशैली का हिस्सा बनाएं: योगी   

लखनऊ । उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि राज्य में संक्रमण के नये मामलों में कमी और रिकवरी दर बेहतर होनो सुखद है हालांकि लोगों को कोविड विहैवियर को जीवनशैली का हिस्सा बनाना चाहिये। श्री योगी ने टीम-9 के साथ कोरोना की स्थिति की समीक्षा करते हुये शनिवार को कहा कि पिछले 24 घंटो में कोविड के 30317 नए केस आए जबकि 38826 लोग उपचारित होकर स्वस्थ हो चुके हैं। यह स्थिति सुखद है। प्रदेश में संक्रमण कम हो रहा है और रिकवरी बेहतर हो रही है। हमें इसी प्रकार टेस्ट, ट्रैक और ट्रीट की नीति को प्रभावी ढंग से लागू रखना होगा। यह बहुत जरूरी है कि प्रदेशवासी कोविड विहैवियर को जीवनशैली का हिस्सा बनाएं।

उन्होने कहा कि बीते 24 घंटों में प्रदेश में 2,66,326 कोविड टेस्ट संपन्न हुए हैं। इसमें 1,14,172 टेस्ट केवल आरटीपीसीआर माध्यम हुए हैं। अब तक उत्तर प्रदेश में 4.10 करोड़ टेस्ट हो चुके हैं। यह देश के सभी राज्यों में सर्वश्रेष्ठ है। सीएचसी और पीएचसी स्तर पर एंटीजन टेस्ट बढ़ाये जाने की जरूरत है। स्वास्थ्य विभाग इस संबंध में कार्यवाही सुनिश्चित कराए। मुख्यमंत्री ने कहा कि आज से प्रदेश में 18 वर्ष से अधिक आयु के लोगों के कोविड टीकाकरण की प्रक्रिया प्रारंभ हो गई है। वैक्सीन वेस्टेज को न्यूनतम रखने के प्रयासों और नए टीकाकरण सॉफ्टवेयर के ट्रायल के दृष्टिगत अधिक संक्रमण दर वाले सात जिलों में 85 केंद्रों पर 18-44 आयु वर्ग का टीकाकरण किया जा रहा है। इसे चरणबद्ध रूप से पूरे प्रदेश में लागू किया जाएगा। इसी के साथ-साथ प्रदेश में 2500 केंद्रों पर 45 वर्ष से अधिक आयु के लोगों का टीकाकरण पूर्ववत जारी है।

योगी ने कहा कि कोविड से लड़ाई में टीकाकरण अहम है। देश मे सर्वाधिक टीकाकरण उत्तर प्रदेश में हुआ है। निःशुल्क टीकाकरण की घोषणा करने वाला उत्तर प्रदेश प्रथम राज्य है। हम सभी नागरिकों के वैक्सीनेशन के लिए नियोजित भाव से कार्य कर रहे हैं।