बलिया : गेहूं खरीद न होने से नाराज किसानों ने रोकी एसडीएम की गाड़ी

बलिया : गेहूं खरीद न होने से नाराज किसानों ने रोकी एसडीएम की गाड़ी
बलिया। सरकारी आंकड़ों में गेहूं की रिकॉर्ड खरीद के दावे किए जा रहे हैं। जबकि क्रय केन्द्रों पर गेहूं बिक्री के लिए किसान भटक रहे हैं। क्रय न होने से नाराज किसान सोमवार को एसडीएम सदर की गाड़ी के सामने धरने पर बैठ गए। प्रशासन के काफी गेहूं क्रय के आश्वासन पर किसानों ने धरना समाप्त किया। सोहांव ब्लाक के चौरा कथरिया साधन सहकारी समिति पर विपणन विभाग का क्रय केन्द्र संचालित है। इलाके के किसान धीमी खरीद से पहले से ही आक्रोशित थे। इधर, गेहूं खरीद की समय सीमा 15 जून को समाप्त हो रही है। जबकि सोमवार को चौरा कथरिया क्रय केन्द्र बंद मिला। दौलतपुर निवासी किसान संतोष सिंह व कथरिया निवासी किसान संजय सिंह ने इसकी जानकारी डिप्टी आरएमओ को देनी चाही। मगर उन्होंने फोन नहीं उठाया। इसके बाद क्रय केन्द्र के बंद होने की जानकारी किसानों ने अपर जिलाधिकारी रामआसरे को दी। 
 
उन्होंने मौके पर एसडीएम सदर राजेश यादव को भेजा। एसडीएम की गाड़ी क्रय केन्द्र पर पहुंचती इसके पहले दर्जनों किसान उनकी गाड़ी के आगे बैठ गए। सूचना पर नरही एसओ योगेंद्र बहादुर सिंह मय फोर्स पहुंच गए। किसी तरह एसडीएम की गाड़ी क्रय केन्द्र तक पहुंची। यहां भी किसान धरना देने लगे। किसानों ने क्रय केन्द्र पर खरीद में धांधली का भी आरोप लगाया। किसानों के गुस्से को देखते हुए एसडीएम ने क्रय केन्द्र के सचिव को बुलवाया। उसे जमकर झाड़ पिलाई। बाद में तय हुआ कि किसानों का गेहूं क्रय केन्द्र पर नियमानुसार खरीदा जाएगा। 
 
गड़बड़ी करने वालों पर होगी कार्रवाई : एडीएम 
 
एडीएम रामआसरे ने कहा कि इस बार 17751 किसानों से 78626.476 मीट्रिक टन खरीद हुई है। जबकि पिछले साल 8030 किसानों से 44188.808 मीट्रिक टन खरीद हुई थी। अभी दो दिन का समय है। खरीद सुचारू चलती रहेगी। यदि कहीं गड़बड़ी हुई होगी तो संबंधित के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।