आम आदमी पार्टी की किसान मजदूर खेत बचाओं यात्रा कल पहुंचेगी अम्बाला : रीना सिंगला

आम आदमी पार्टी की किसान मजदूर खेत बचाओं यात्रा कल पहुंचेगी अम्बाला : रीना सिंगला

अंबाला। केन्द्र सरकार द्वारा बनाए गए तीनों काले कृषि कानूनों के विरूद्व आंदोलन पर बैठे किसानों की आवाज को और अधिक बल देने के लिए आम आदमी पार्टी पूरे प्रदेश में किसान मजदूर खेत बचाओं यात्रा का आयोजन करने जा रही है। रीना सिंगला ने बताया कि यात्रा 5 सितंबर को जाट शि़क्षण संस्थान में स्थित चैधरी छोटू राम के स्मारक पर अपनी श्रद्वाजंलि अर्पित करने के उपरांत रोहतक से सुबह 9 बजे से शुरू होकरगांधी आश्रम पलवल में 13 सितंबर को समाप्त होगी। हरियाणा के सभी विधानसभाओं व जिलों से आठ दिनों में करीबन 4000 हजार किलोमीटर के रास्ते से गुजरेगी। यात्रा का नेत्तृव हरियाणा के आप सहप्रभारी एंव राज्यसभा सांसद डा सुशील गुप्ता करेंगे। उनके साथ कई सांसद, विधायक एवं जिला पंचायतों के प्रतिनिधि भी मौजूद रहेंगे। अनेक सामाजिक संगठन जैसे की छोटू राम विचार मंचकिसान चैंबर आफ कामर्समध्य उत्तरी हरियाणा विकास संगठनयुवा शक्ति बदलाव की ओर संगठनदीनबंधू चैधरी छोटूराम विचार समितिएसवाइएल हिमाचल मार्ग समिति आदि अनेक अन्य सामाजिक संगठन भी यात्रा शामिल रहेंगे।

 फर्जी मुकदमें भी दर्ज

डा सुशील गुप्ता ने बताया कि किसान पिछले 9 महीनें से अपना घर-बार छोडकर दिल्ली के चारों तरफ केन्द्र के तीनों काले कृषि कानूनों को रदद करने की मांग को लेकर आंदोलन पर बैठे है। इस दौरान 600 से अधिक किसानों की शहादत भी हो चुकी है। लेकिन सरकार के कानों में जूं तक नहीं रेंगीं। उन्होंने बताया कि सरकार एक तरफ तो किसानों से बात करने की बात कहती हैवहीं दूसरी ओर शांतिपूर्ण आंदोलन कर रहें किसानों पर भाजपा की हरियाणा सरकार पुलिस से लाठीचार्ज करने को कहती हैऔर तो और उनपर फर्जी मुकदमें भी दर्ज कराती है। यही नहीं किसानों पर किए जा रहे अत्याचारों को भी मुख्यमंत्री मनोहर लाल खटटर उचित ठहराने से पीछे नहीं हटते। हम शहदत दे चुके किसानों को शहीद का दर्जा उनकी विधवाओं को पेंशनपरिवार के किसी एक सदस्य को नौकरी तथा की मांग करते है।

 यात्रा अपने उददेश्य में जरूर सफल रहेगी

किसान बचेगा तभी मजदूर का पेट भरेगा। उन्होंने बताया कि यात्रा के दौरान 4 हजार से अधिक मोटर साइकिल 2 हजार से अधिक कारोंटृक्टरो व जीपों में सवार लगभग 50 हजार से अधिक लोग सम्मिलित होंगे। जिनका मुख्य उदेश्य स्थानीय लोगों को इस काले कानून के प्रति जागरूक करना है। 24 अगस्त 2021 को विधानसभा में कानून पास कर पूर्व में प्राइवेट प्रोजेक्ट के लिए जमीन एक्वायर करने के लिए 75 पर्सेंट किसानों के सहमति होती थी वो भी अब खत्म कर दी। दूसरा अब मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर किसान की जमीन एक्वायर करेंगे तो उसे अडानी-अंबानी के नाम अलॉट करेंगे। किसान देखता रह जाएगा। इसस साफ हो गया है कि खटटर की इस सरकार ने किसानों की जमीन खोसने का काम शुरू कर दिया है। उन्होंने कहा कि यात्रा से पूर्व ही लोगों के समर्थन के प्रति फोन कॉल आ रहें है। इससे हमें लगता है कि यात्रा अपने उददेश्य में जरूर सफल रहेगी।

 किसानों जमीन छिनने के लिए नये आदेश

राज्यसभा सांसद डॉ सुशील गुप्ता ने हरियाणा सरकार पर आरोप लगाया है कि किसानों की जमीन छीनकर अपने मित्र अडानी, अंबानी को देना चाहती है। हाल ही में खटटर सरकार किसानों जमीन छिनने के लिए नये आदेश लेकर आई है। इस नये आदेश में हरियाणा की बीजेपी सरकार ने सामलात देहसामलात ठोलासामलात पाना की जमीन सरकार के नाम चढ़ाने का आर्डर दिया है। पहले सामूहिक रूप से गांव के लोग सामलात जमीन के मालिक होते थे अब उनसे यह जमीन छीन ली व बिना एक रूपये दिए हुए।

 रीना सिंगला, प्रवक्ता नार्थ हरियाणा, महिला आम आदमी पार्टी।