50 प्लस लेडीज़ ने 4 इयर्स में पहुँचाया अपना ऑनलाइन बिजनेस 2 करोड़ के पार

कहते हैं कि "सफलता उम्र की मोहोताज़ नही होती " इस बात को सार्थक किया देहरादून में रहने वाली 50 प्लस 2 लेडीज़ निशा गुप्ता और गुड्डी थपलियाल ने ।कैसे? आइये जानते हैं इस आर्टिकल में।

50 प्लस लेडीज़ ने 4 इयर्स में पहुँचाया अपना ऑनलाइन बिजनेस 2 करोड़ के पार

फीचर्स डेस्क। कहते हैं कि लाइफ में कुछ पाने के लिए सच्ची मेहनत और मजबूत इरादे हों तो कोई भी काम इंपॉसिबल नहीं है और हम लेडीज़ तो इम्पॉसिबल को पॉसिबल बनाने में माहिर हैं।आज मैं आपको देहरादून की ऐसी ही दो पर्सनालिटी  निशा गुप्ता और गुड्डी थपलियाल के स्ट्रगल की कहानी इस आर्टिकल में बताउंगी जिन्होंने 50 इयर्स की एज में घर में ही अपने बिजनेस को स्टार्ट किया और आज उन्होंने अपने बिजनेस को 2 करोड़ तक पहुँचा दिया है।

दोनों ने मिल कर स्टार्ट किया बिजनेस

बेशक उनकी एज 50 प्लस थी लेकिन इस एज में भी उनका खुद का कुछ करने की चाहत थी जिसके चलते दोनों ने मिल के अपने बिजनेस को स्टार्ट किया ।निशा गुप्ता जहाँ ग्रेजुएट थी वहीं गुड्डी थपलियाल 5th तक ही पढ़ी थी लेकिन इनकी ट्यूनिंग इतनी अच्छी थी कि इन्होंने अपने पढ़ाई के इस अंतर को अपने वर्क में कभी नहीं आने दिया।निशा गुप्ता के बच्चे आईटी फील्ड में थे और इनके बच्चों ने जब अपनी मम्मी के इस पैशन को देखा तो उनको सजेस्ट किया कि वो ऑनलाइन बिजनेस करें जिसका आजकल बहुत चलन है।

ऑनलाइन गिफ्टिंग प्लेटफॉर्म बनाया "Geek Monkey" नाम से

निशा गुप्ता को अपने बच्चों का ये आईडिया बेहद पसंद आया जिसके चलते उन्होंने गुड्डी थपलियाल से इस विषय में बात की तो दोनों ने डिसाइड किया कि वो एक ऐसा ऑनलाइन शॉपिंग प्लेटफॉर्म बनाएंगी जिसमें कस्टमर को अट्रैक्टिव गिफ्ट आइटम्स प्रोवाइड हों और अपनी इस सोच को सक्सेज़ करने के लिए उन्होंने ईयर 2017 में "Geek Monkey" नाम से अपनी वेबसाइट ओपन की और उसे अट्रेक्टिव बनाने के लिए न्यू आइडियाज सोचने लगीं जिससे कि उसमें ज्यादा से ज्यादा कस्टमर्स आयें।

हैंडमेड आइटम्स को किया प्रमोट

निशा गुप्ता और गुड्डी थपलियाल ने मिलकर सोचा कि अगर हम अपने ऑनलाइन प्लेटफॉर्म में हैंडमेड आइटम्स को प्रमोट करेंगे तो कस्टमर को अट्रैक्टिव भी लगेगा और वो उनको खरीदना भी चाहेंगे।उन्होंने "Greek Monkey" में हर प्राइज़ के आइटम्स रखें जिसके लिए उन्होंने कई सारे हैंडमेड क्राफ्टमैन से कॉन्टेक्ट किया और उनको भी इस मीडियम से जॉब दी ।आज उनका ये बिजनेस बहुत सक्सेज़ है और अब हर ईयर ये 2 करोड़ से ऊपर पैसा कमा रहीं हैं।

इसे भी देखें:कृष्णा यादव ने कैसे तय किया 500 रुपए से 4 करोड़ तक का सफर, पढ़िए इनकी शून्य से शिखर तक पहुंचने की कहानी

कस्टमर से पर्सनल टॉकिंग है इम्पोर्टेन्ट

इनका मानना है अगर हमको अपने बिजनेस को बढ़ाना है तो कस्टमर से पर्सनल टॉकिंग बहुत इंपोर्टेन्ट है जिससे हमको ये पता चले कि कस्टमर को क्या पसंद है और मार्केट में किस तरह के आइटम्स की डिमांड है।इन्होंने अपनी वेबसाइट में 99 रूपीज़ से लेकर 13000 रूपीज़ तक के आइटम रखें हैं । इन दोनों 50 प्लस लेडीज़ ये लेसन देतीं हैं सभी लेडीज़ को  कि सक्सेज़ होने के लिए ऐज नही मन मे कुछ पाने की चाह का होना इंपोर्टेन्ट है।