'फोकस स्पेशल स्टोरी'

by Shikha singh

फीचर्स डेस्क। सुनो ना, आज कुछ कहना है तुमसे, बहुत दिनों से सोच रही हूँ कि दिल की हर बात कह दूँ। पर जाने क्या सोचकर रूक जाती हूँ। अच्छा एक बात तो बोलो जरा,  क्या तुम्हें हमारी पहली मुलाकात याद है। मैं तो कभी भी नहीं भूल सकती वो दिन कितना डरावना था ना सबकुछ, मैं बस स्टैंड पर खड़ी किसी सवारी का इंतजार कर रही थी। पर जिसका दूर दूर तक कोई नामोन Read more...

h h h h h h h h h hhhhhhhhhhhhhhhhhhhhhhhhhhhhhhhh h h h h h h h h h h hhhhhhhhhh

by Shikha singh

फीचर्स डेस्क। अगर भगवान आम महिला होते तो सोचिए क्या करते ? जब भी ऐसा सोचती हूं तो लगता है वो भी अपने अस्तित्व के लिए हर पल लड़ते । क्या एक महिला के कर्म ईश्वर से कम होते हैं ? जरा सोचिए !  नहीं _हर महिला अपने आप में ईश्वर का रूप होती है जो हर दायित्व निभाती है बिना कोई भी शिका Read more...

h h h h h h h h h hhhhhhhhhhhhhhhhhhhhhhhhhhhhhhhh h h h h h h h h h h hhhhhhhhhh

by manish shukla

फीचर्स डेस्क। सुबह के लगभग 9:00 बज रहे थे, आसमान बिल्कुल साफ था लेकिन, सीमा पर युद्ध के बादल नजर आने लगे थे । किसी तूफान के आने से पहले होने वाली खामोशी उन हवाओं में अभिनंदन महसूस कर सकते थे।जांबाज विंग कमांडर अभिनन्दन अपने फाइटर प्लेन में हवा को चीरते आगे बढ रहे थे कि अचानक हवा में ही अभिनंदन को एहसास हुआ कि उनका जेट ज Read more...

h h h h h h h h h hhhhhhhhhhhhhhhhhhhhhhhhhhhhhhhh h h h h h h h h h h hhhhhhhhhh

by Jyoti Patel

फीचर्स डेस्क। हग डे...बोले तो झप्पी दिवस। एक बार किसी को प्यार से गले लगा लो, बड़ी से बड़ी गलती और भूल भी माफ़ हो जाती है, और मजे की बात तो ये है, कि इसका भी एक स्पेशल दिन होता है। यह दिन वैलेंटाईन सप्ताह के खास दिनों में से एक है जो एक दूसरे को गले लगाकर मनाया जाता है। इस झप्पी दिवस के साथ आपके पास अपनी बड़ी से बड़ी गल Read more...

h h h h h h h h h hhhhhhhhhhhhhhhhhhhhhhhhhhhhhhhh h h h h h h h h h h hhhhhhhhhh

by Priyanka Shukla

फीचर्स डेस्क। “मेरे हाथ में तेरा हाथ हो, सारी जन्नतें मेरे साथ हों” कुछ साल पहले आमिर खान ने अपनी फिल्म में ये डायलाग बोला था। जो कि यूथ के बीच इतना फेमस हुआ कि जब भी प्यार मोहब्बत की बात आती है, तो यह डायलाग ज़रूर याद आता है। खैर यह तो बात हो गई आमिर खान की, अब आते हैं मेन टॉपिक पर। आज है प्रॉमिस डे। प्रॉमिस Read more...

h h h h h h h h h hhhhhhhhhhhhhhhhhhhhhhhhhhhhhhhh h h h h h h h h h h hhhhhhhhhh

by Shivangi Agarwal

फीचर्स डेस्क। प्यार इश्क और मौहबब्त कहना जितना आसान है, उसे निभाना उतना ही मुशकिल है....कुछ ऐसी ही दास्ता है इस इश्क की सूली पर चढ़े बादों की कहानी... कोई कहता है जान जाए पर जुबान नहीं जानी चाहिए, तो वही आज कुछ लोगों का कहना है वादें तो बनाएं ही तोड़ने के लिए जाते है। अब कौन क Read more...

h h h h h h h h h hhhhhhhhhhhhhhhhhhhhhhhhhhhhhhhh h h h h h h h h h h hhhhhhhhhh