'सक्सेस स्टोरी'

by सिक्योरिटी गार्ड के बेटे ने CA बन हासिल किया नया मुकाम

नई दिल्ली। हिंदी के महान कवि रामधारी सिंह दिनकर ने अपनी कविता में एक लाइन लिखा था, “है कौन सा विघ्न ऐसा जग में, जो टिक सके आदमी के मग में।” इसी को साबित कर दिखाया है संदीप नाम के युवक ने। संदीप ने यह भी साबित कर दिखाया है कि इन्सान के दिल में कुछ करने का जज्बा हो तो वह कर सकता है। संदीप ने अपने पहले ही प्रयास में सीए (CA) के एग्जाम को क्वालीफाई कर लिया Read more...

h h h h h h h h h hhhhhhhhhhhhhhhhhhhhhhhhhhhhhhhh h h h h h h h h h h hhhhhhhhhh