valentine day special ... रोज के साथ दिल में इंट्री लिया वेलनटाइन...हैप्पी रोज डे

Slider 1
« »
7th February, 2019, Edited by Pratima Jaiswal

फीचर्स डेस्क।  इश्क पर किसी का जोर नहीं... । कुछ ऐसे ही थीम के साथ आज से शुरू हुआ 7 डेज तक चलने वाला वेलनटाइन-डे। जी, हां आज पूरा दिन सिटी के होटल्स, शोपिंग माल और पार्क सहित कई जगहों पर जोड़े हाथ में गुलाब लिए दिखाई पड़े। यानी आप समझ सकते हैं कि फाइनली फरवरी की सात तारिख की दस्तक के साथ वेलनटाइन वीक की शुरूआत हो चुकी है। इस लव सीजन का यह पहला दिन है, जिसे रोज डे के नाम से मनाया जाता है।

हर रंग का अपना खास है मतलब

वेलनटाइन डे की शुरुआत रोज डे से होती है दरअसल ये इन सात दिनों में सबसे पहले आने वाला डे है। हर व्यक्ति के लिए उसकी दिंदगी का हर एक रिश्ता उसकी जिंदगी में एक अलग ही जगह रखता है।  इस भागदौड़ भरी जिंदगी में बिजी तो हर कोई है, लेकिन उसका बिजी होना उसकी प्रायॉरिटी लिस्ट पर डिपेंट करता है। वैसे तो बजार में मिलने वाले तरह-तरह के रंगों के रोज हर रिश्ते के मान से जुड़े होते है। अब जैसे रेड रोज को ही ले लो...यह दो प्यार करने वालों के बीच का रिश्ता बंया करता है। इसके अलवा येलो रोज दोस्ती को, तो और गुलाबी रोज हम अपनी जिंदगी के कुछ खास लोगों के साथ सांझा करते है।

धड़कता हा दिल....

प्यार जताने या लव सीजन को मनाने की कोई उम्र सीमा नहीं होती, ना ही कोई रिश्ता या बंदिश होती है। हां अगर इसके लिए सबसे ज्यादा कुछ जरूरी है, तो वो है आपका अपना धड़कता हा दिल....इस लव सीजन को मनाने के लिए आपकी उम्र चाहे पच्चपन की हो या बच्चपन की, बस आपका दिल जवां होना जरूरी है। ये बात तो आप और हम दोनों ही जानते है कि हर रिश्ते की शुरूआत दोस्ती के साथ होती है, इसलिए इस लव सीजन की शुरूआत भी हर साल रोज डे के साथ होती है। हमारे पुर्खों से चली आ रही लेन-देन की पंरपरा का ध्यान युवाओं ने भी क्या बखुबी निभाया है, एक खुबसुरत सा खुलखिलाता हुआ रोज देकर अपने रिशते की पहल करता है इस सीजन में हर कोई....अब किसे वापस रोज मिलता है, और किसे थप्पड़ ये तो उसका वक्त ही उसे सबक सिखाता है। इस पहल के साथ शुरू हुए कई रिश्ते पुरी जिंदगी इसी गुलाब की तरह महकते हुए आगे बढ़ते है।