आखिर क्या है एक्सोडस , इसाई धर्म के इस पुस्तक के बारें में जानें

Slider 1
« »
28th June, 2018, Edited by Focus24 team

कानपुर। एक्सोडस (निर्गमन) नाम का अर्थ है ‘प्रस्थान करना’ या ‘चले जाना’ है। यह इस्राएल के इतिहास की प्रमुख घटना को दर्शाता है, जिसका वर्णन ‘बाइबल’ में मिलता है। बाइबल के अनुसार निर्गमन का अर्थ है इस्राएली लोगों का मिस्र से प्रस्थान करना। इस्राएली लोगों का दासत्व से छुटकारा पाना और सीनै पर्वत तक यात्रा करना। सीनै पर्वत पर परमेश्वर का अपने लोगों से वाचा बांधना, जिसके द्वारा उन्हें जीवन व्यतीत करने के नैतिक, सामाजिक, और धार्मिक नियम प्राप्त हुए।

इस्राएली लोगों के लिए आराधना करने के स्थान को निर्मित और सुसज्जित करना, याजकों और परमेश्वर की आराधना से संबंधित नियमों को प्राप्त करना। मुख्यतः इस पुस्तक में यह वर्णित है कि परमेश्वर ने क्या किया, जैसा कि उसने अपने लोगों को दासत्व से छुड़ाया और भविष्य की आशा के लिए एक जाति के रूप में उन्हें संगठित किया। इस पुस्तक का प्रमुख मानव-पत्र मूसा है, जिसे परमेश्वर ने अपने लोगों को मिस्र से निकाल ले जाने के लिए चुना था। इस पुस्तक का सुप्रसिद्ध भाग 20वें अध्याय में दी गई दस-आज्ञाओं की सूची है। 

आर्टिकल सोर्स : पंडित मनोज पाठक, कानपुर सिटी।