नर्सिंग एंड पैरामेडिकल स्टाफ हमेशा समाज के बीच में रहता है : डॉ रितु गर्ग

Slider 1
« »
25th January, 2019, Edited by Ananya Rawat

वाराणसी सिटी। सिटी के नेवादा सुंदरपुर स्थित संतुष्टि इंस्टिट्यूट ऑफ़ नर्सिंग में राष्ट्रीय बालिका दिवस सप्ताह के अंतर्गत शुक्रवार को नर्सिंग ,पैरामेडिकल स्टाफ एंड फार्मेसी की छात्र छात्राओं को कन्या भ्रूण हत्या रोकने एवं लड़कियों और महिलाओं को उनके अधिकारों के प्रति जागरूक कर मतदान के अधिकार का प्रयोग करने संबंधी शपथ दिलाई गई। इस अवसर पर डॉ. रितु गर्ग ने कहा कि नर्सिंग एंड पैरामेडिकल स्टाफ हमेशा समाज के बीच में रहता है, तो उसकी सामाजिक और नैतिक जिम्मेदारी बनती है कि महिलाओं को कन्या भ्रूण हत्या रोकने, शिक्षा का अधिकार होने एवं संपत्ति के अधिकार के तहत बराबरी का हिस्सा प्राप्त होने संबंधित विषयों पर जागरूक करें एवं समाज में इन सभी विषयों पर जागरूकता फैलाने के साथ-साथ लोगों को कानूनी प्रावधानों के बारे में भी बताएं।

आज राष्ट्रीय मतदाता दिवस भी है और लड़कियों को अपने मतदान का प्रयोग जरूर करना चाहिए अक्सर ऐसा होता है कि महिलाएं मतदान के दिन को छुट्टी का दिन मानते हुए अपना पूरा समय किचन और बाकी छूटे हुए कामों को पूरा करने में लगा देती हैं, खुद मतदान करने नहीं जाती जो कि सर्वथा गलत है। मतदान भी आपका एक बहुत महत्वपूर्ण अधिकार है जिसका प्रयोग करना चाहिए ताकि सभी सरकारें महिलाओं को ध्यान में रखते हुए अपने शपथ पत्र को बना सके। हमें अपने अधिकारों के प्रति स्वयं जागरूक होना होगा तभी हमें हमारे अधिकार सुनिश्चित कराए जाएंगे।

कन्या भ्रूण हत्या आज भी एक अभिशाप है और इससे निबटने का सबसे कारगर तरीका है कि समाज के निचले तबके तक पहुंचकर इससे होने वाले दुष्परिणामों के बारे में उनको जागरूक किया जाए और यह काम आंगनवाड़ी वर्कर, एनम ,जीएनएम ,पैरामेडिकल स्टाफ से अच्छा कोई भी नहीं कर सकता क्योंकि उनको सबसे निचली इकाई तक काम करने का अनुभव प्राप्त हैं। डाक्टर संजय गर्ग ने सभी नर्सिंग एवं पैरामेडिकल छात्र-छात्राओं को किसी भी गलत काम में शामिल ना होने एवं ईमानदारी के साथ अपने कर्तव्य को निभाने के लिए प्रेरित किया एवं कहा कि एक स्वस्थ एवं समृद्ध समाज की स्थापना के लिए आपको सामाजिक भागीदारी सुनिश्चित करना बहुत जरूरी है और इसके लिए आपको स्वयं को मोटिवेट करना होगा और दृढ़ता के साथ इसके लिए आगे आना होगा। इस अवसर पर कॉलेज के सभी छात्र छात्राओं एवं अध्यापिकाओं ने कन्या भ्रूण हत्या रोकने अपने मताधिकार का प्रयोग करने एवं अन्य महिलाओं को जागरूक करने हेतु शपथ ली।