जन्माष्टमी स्पेशल : इस बार बग्घी पर सवार होकर और मोबाईल से बात करते नजर आएगे कान्हा !

Slider 1
Slider 1
« »
2nd September, 2018, Edited by Pratima Jaiswal

कानपुर सिटी। आज जन्माष्टमी है, ऐसे में सिटी के मार्केट में प्रभु के वस्त्र और सजावट के सामान एक से बढ़कर एक मिल रहे हैं। वही यहाँ जन्माष्टमी की खरीददारी के लिए खरीददारों की भीड़ जुटना शुरू हो गयी है। बता दें कि सिटी में खासी रौनक दिखाई देने लगी है। हर कोई अपने अपने कान्हा जी को अलग अलग अंदाज में सजाने और संवारने में जुट गया है। सिटी में आज लड्डू गोपाल को सजाने और संवारने में एक होड़ से मची हुई है। इस साल खास यह है कि लड्डू गोपाल बग्घी पर सवार होकर और मोबाइल से बात करते हुए अपने भक्तों को दर्शन देंगे।

कान्हा जी के तैयारी में जुटा है शहर

जन्माष्टमी का पर्व आते ही भारत में खुशी की लहर दौड़ उठती है। भक्त भी कान्हा जी के रंग में रंगने लग जाते हैं। इस पावन पर्व को मनाने के लिए जहां शहर के मंदिरों और घरों में हर्षोल्लास का वातावरण दिखाई देने लगा है तो वहीं बाजारों में जनमाष्टमी की चमक पूरी तरह से दमकने लगी है। यहां मनमोह लेने वाली लड्डू गोपाल की मूर्तियों के साथ साथ उनको पहनाए जाने वाले वस्त्रों, जेवरों समेत अन्य सामग्री लोगों में आकर्षण का केंद्र बनी हुई है। वैसे तो सिटी में हर बार जन्माष्टमी खास होता है लेकिन इस बार का जन्माष्टमी पर्व एक अलग अंदाज में मनाया जाएगा।

सोफे व उनके सोने के लिए बेड

इस बार बाजारों में प्रभु लड्डू गोपाल के लिए डिज़ाइनर कपड़ो के साथ साथ वीआईपी हैट, मोबाइल, बैठने के लिए सोफे व उनके सोने के लिए बेड के साथ साथ बरसात में बारिश से बचने के लिए स्पेशल छतरी भी बाजारों में दिखाई दे रही है। बता दें कि लड्डू गोपाल को नए नए तरीकों से सजाने और संवारने में दिखाई दे रहा है। कोई अपने भगवान को स्पेशल झूले में झूलाने को आतुर है तो कोई बग्घी में घुमाने को।

झूले और बग्घी की खूब डिमांड है

इस बार जन्माष्टमी को लेकर हमारे यहां भगवान के विशेष परिधानों के साथ साथ भगवान की बग्घी, हैट ,हाकी, मोबाइल, डायपर, वीआईपी झूले, स्पेशल सिंघासन, छतरी, और चमकदार मुकुट आये हैं। इस बार झूले और बग्घी की खूब डिमांड है और लोग इन्हें खूब खरीद भी रहे हैं। साथ ही वे भगवान की सभी सामग्रियां खुद ही बनवाती हैं।

अनूप जायसवाल, केदवाई मार्केट, कानपुर सिटी।

हम मोबाइल का उपयोग करते हैं तो कृष्ण क्यों नहीं ?

हम अपने आराध्य को अनोखे अंदाज में सजाने के लिए इस बार वीआईपी झूला और मनमोहक डिज़ाइनर कपड़े, आकर्षित मुकुट के साथ साथ भगवान के लिए मोबाइल भी लिया है। इस आधुनिक युग मे जब हम मोबाइल का उपयोग करते हैं तो हमारे आराध्य क्यों इसे न इस्तेमाल करें। जन्माष्टमी के लिए यहां हर तरह की सुंदर अदभुत कान्हा जी की मूर्तियां, डिजाइनर वस्त्र और उनके मोबाइल समेत सभी नई नई चीज़े उपलब्ध हैं। हर चीज़ अदभुत है।

प्रिया वर्मा, खरीदार (भक्त), कानपुर सिटी।